ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 56



                                               

रेडियोजैविकी

रेडियोजैविकी आयुर्विज्ञान की एक शाखा है जिसमें जीवों के ऊपर आयनकारी विकिरण के प्रभाव का अध्ययन करा जाता है। आयनकारी विकिरण जीवों की कोशिकाओं और ऊतकों पर बहुत हानिकारक या जानलेवा प्रभाव रखती हैं लेकिन कुछ सन्दर्भों में उनकी सीमित मात्रा से चिकित्स ...

                                               

खाद्य संरक्षा

                                               

जल प्रक्रमण

                                               

जैवसांख्यिकी

                                               

पर्यावरणीय स्वास्थ्य

                                               

रोग अवरोधन

                                               

स्वच्छता

                                               

स्वास्थ्य आपदाएँ

                                               

स्वास्थ्य प्रोत्साहन

                                               

स्वास्थ्यता

                                               

प्रवेशद्वार: इलेक्ट्रॉनिक्स

                                               

अनुरूप एलेक्ट्रॉनिकी

अनुरूप एलेक्ट्रॉनिकी के अन्तर्गत वे एलेक्ट्रानिक प्रणालियाँ आतिं हैं जिनमें पाये जाने वाले संकेत क्रमश: या सतत बदलते हैं । इसके विपरीत आंकिक एलेक्ट्रॉनिकी में पाये जाने वाले संकेत केवल द्विस्तरीय होते हैं - शून्य या एक। एलेक्ट्रानिकी के आरम्भिक द ...

                                               

अर्धचालक डायोड

डायोड एक P टाइप सेमीकंडक्टर और N टाइप सेमीकंडक्टर का जंक्शन होता है इसलिए डायोड को हम P-N जंक्शन डायोड भी कहते हैं। जैसा की हम जानते हैं कि P टाइप सेमीकंडक्टर में होल कि अधिकता रहती है और N टाइप सेमीकंडक्टर में एलेक्ट्रोंस की। हमें ये भी पता है क ...

                                               

अर्धचालक युक्ति

अर्धचालक युक्तियाँ उन एलेक्ट्रानिक अवयवों को कहते हैं जो अर्धचालक पदार्थों के गुण-धर्मों का उपयोग करके बनाये जाते हैं। सिलिकॉन, जर्मेनियम और गैलिअम आर्सेनाइड मुख्य अर्धचालक पदार्थ हैं। अधिकांश अनुप्रयोगों में अब उन सभी स्थानों पर अर्धचालक युक्तिय ...

                                               

अवक्षय क्षेत्र

डायोड एक P टाइप सेमीकंडक्टर और N टाइप सेमीकंडक्टर का जंक्शन होता है इसलिए डायोड को हम P-N जंक्शन डायोड भी कहते हैं। जैसा की हम जानते हैं कि P टाइप सेमीकंडक्टर में होल कि अधिकता रहती है और N टाइप सेमीकंडक्टर में एलेक्ट्रोंस की. हमें ये भी पता है क ...

                                               

इन्वर्टर

                                               

इलेक्ट्रॉनिक इंजिनीयरी का इतिहास

इलेक्ट्रॉनिकी का आधुनिक रूप रेडियो एवं दूरदर्शन के विकास के रूप में सामने आया। साथ ही द्वितीय विश्व युद्ध में प्रयुक्त रक्षा उपकरणों एवं रक्षा-तन्त्रों से भी इसका महत्व उभरकर सामने आया। किन्तु इलेक्ट्रॉनिकी की नीव बहुत पहले ही रखी जा चुकी थी। इले ...

                                               

इलेक्ट्रॉनिक फिल्टर

एलेक्ट्रॉनिक निस्यन्दक या इलेक्ट्रॉनिक फिल्टर ऐसे परिपथों को कहते हैं जो, संकेत प्रसंस्करण का काम करते हैं। ये विद्युत संकेतकों में से अवांछित आवृत्ति वाले अवयवों को कम करते हैं; वांछित आवृत्ति वाले अवयवों को बढ़ाते हैं; या ये दोनो ही कार्य करते ...

                                               

अंकीय इलेक्ट्रॉनिकी

अंकीय इलेक्ट्रॉनिकी या डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स इलेक्ट्रॉनिक्स की एक शाखा है जिसमें विद्युत संकेत अंकीय होते हैं। अंकीय संकेत बहुत तरह के हो सकते हैं किन्तु बाइनरी डिजिटल संकेत सबसे अधिक उपयोग में आते हैं। शून्य/एक, ऑन/ऑफ, हाँ/नहीं, लो/हाई आदि बाइनर ...

                                               

इलैक्ट्रॉनिक्स

विज्ञान के अन्तर्गत इलेक्ट्रॉनिक्स या इलेक्ट्रॉनिकी विज्ञान और प्रौद्योगिकी का वह क्षेत्र है जो विभिन्न प्रकार के माध्यमों से होकर आवेश के प्रवाह एवं उन पर आधारित युक्तिओं का अध्ययन करता है। प्रौद्योगिकी के रूप में इलेक्ट्रॉनिकी वह क्षेत्र है जो ...

                                               

उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स

उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स या गृह इलेक्ट्रॉनिक्स दैनिक प्रयोग में आने वाली इलेक्ट्रॉनिक वस्तुएँ होती हैं जो विशेष रूप से निजी घरों में इस्तेमाल होती हैं। इनमें टेलिविज़न जैसी मनोरंजन के लिए, दूरभाष जैसी संचार के लिए और संगणक जैसी कार्यों के लिए प्रय ...

                                               

एकीकृत परिपथ

एलेक्ट्रॉनिकी में एकीकृत परिपथ या एकीपरि) को सूक्ष्मपरिपथ, सूक्ष्मचिप, सिलिकॉन चिप, या केवल चिप के नाम से भी जाना जाता है। यह एक अर्धचालक पदार्थ के अन्दर बना हुआ एलेक्ट्रॉनिक परिपथ ही होता है जिसमें प्रतिरोध, संधारित्र आदि पैसिव कम्पोनेन्ट के अला ...

                                               

एन-प्रकार अर्धचालक

जब हम प्योर सेमीकंडक्टर में पेंटावलेंट इम्पुरिटी मिलते है तो सेमीकंडक्टर के बाहरी ऑर्बिट के चार एलेक्ट्रोंस इम्पुरिटी के चार एलेक्ट्रोंस के साथ बोंड बना लेता है। इसके बाहरी ऑर्बिट में आठ एलेक्ट्रोंस पुरे होने के बाद भी इसके पास एक एलेक्ट्रोन बच ज ...

                                               

ऐविओनिकी

ऐविओनिकी शब्द का अर्थ है उड़ान में प्रयुक्त होने वाली इलेक्ट्रॉनिक्स| इसमें मुख्यतः संचार, नेविगेशन, नियंत्रण और डिजिटल प्रदर्शन से सम्बंधित हार्डवेयर एवं साफ्टवेयर का निर्माण और संचालन सम्मिलित होता है|

                                               

ओममापी

ओममापी एक वैद्युत उपकरण जो प्रतिरोध मापने के काम आता है। वे ओममापी जो अत्यन्त कम प्रतिरोध को मापने के हिसाब से डिजाइन किये गये होते हैं उन्हें माइक्रोओममापी कहते हैं। इसी प्रकार बहुत अधिक प्रतिरोध के मापन के लिये मेगोममापी का उपयोग किया जाता है ज ...

                                               

ओमेगा

                                               

ट्रांजिस्टर

ट्रान्जिस्टर एक अर्धचालक युक्ति है जिसे मुख्यतः प्रवर्धक तथा इलेक्त्रॉनिक स्विच के रूप में प्रयोग किया जाता है। कुछ लोग इसे बीसवीं शताब्दी की सबसे महत्वपूर्ण खोज मानते हैं। ट्रान्जिस्टर का उपयोग अनेक प्रकार से होता है। इसे प्रवर्धक, स्विच, वोल्टे ...

                                               

डोपिगं

जैसा की हम जानते हैं कि सेमीकंडक्टर को हम चालक या अर्धचालक किसी भी रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन शुद्ध रूप में एक सेमीकंडक्टर एक कुचालक के तरह काम करता है। शुद्ध रूप का मतलब है कि उसके बाहरी ऑर्बिट में पुरे चार एलेक्ट्रोंस रहते है जैसा कि आप ...

                                               

पी एन जंक्शन

डायोड एक P टाइप सेमीकंडक्टर और N टाइप सेमीकंडक्टर का जंक्शन होता है इसलिए डायोड को हम P-N जंक्शन डायोड भी कहते हैं। जैसा की हम जानते हैं कि P टाइप सेमीकंडक्टर में होल कि अधिकता रहती है और N टाइप सेमीकंडक्टर में एलेक्ट्रोंस की। हमें ये भी पता है क ...

                                               

पी-प्रकार अर्धचालक

जब हम प्योर सेमीकंडक्टर में ट्राईवलेंट इम्पुरिटी मिलते है तो सेमीकंडक्टर के बाहरी ऑर्बिट के चार एलेक्ट्रोंस इम्पुरिटी के तीन इलेक्ट्रोंस के साथ बोंड बना लेता है। जैसा कि हम जानते हैं कि कोई भी परमाणु अपने बहरी ऑर्बिट में आठ एलेक्ट्रोन पूरा करना च ...

                                               

प्रिन्टेड सर्किट बोर्ड

एलेक्ट्रॉनिकी के सन्दर्भ में मुद्रित परिपथ बोर्ड या प्रिन्टेड सर्किट बोर्ड या पीसीबी एक विद्युत अवयव है जो एलेक्ट्रानिक अवयवों को आधार/आश्रय प्रदान करने के लिये तथा इन्हें आपस में सुचालक मार्गों के माध्यम से जोड़ने के लिये उपयोग में लाया जाता है। ...

                                               

फ्लिप-फ्लॉप

एलेक्ट्रॉनिकी में द्विमानित्र एक अंकीय परिपथ है जिसका निर्गम दो स्थाई अवस्थाओं में से किसी एक में बना रहता है में कुछ न किया जाय)। इसे लैच भी कहते हैं। इस परिपथ में एक या एक से अधिक निवेश होते हैं जिन पर संकेत का उचित परिवर्तन करके निर्गम के अवस् ...

                                               

माइक्रोकंट्रोलर

माइक्रोकन्ट्रोलर एक आइ॰ सी॰ है जिसमें पूरा कम्प्यूटर समाहित होता है; अर्थात् एक ही आई॰ सी॰ के अन्दर कम्प्यूटर के चारों भाग निर्मित होते हैं। वस्तुतः यह भी एक प्रकार का माइक्रोप्रोसेसर ही है किन्तु इसकी डिजाइन में इस बात का विशेष ध्यान रखा जाता है ...

                                               

माइक्रोप्रोसेसर

माइक्रोप्रोसेसर एक ऐसा डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक युक्ति है जिसमें लाखों ट्रांजिस्टरों को एकीकृत परिपथ के रूप में प्रयोग कर तैयार किया जाता है। इससे कंप्यूटर के केन्द्रीय प्रक्रमण इकाई की तरह भी काम लिया जाता है। इंटीग्रेटेड सर्किट के आविष्कार से ही आगे ...

                                               

विद्युत संकेत

संचार, संकेत प्रसंस्करण और सामान्य रूप से विद्युत इंजीनियरी के सन्दर्भ में समय के साथ परिवर्तनशील या अवकाश के साथ परिवर्तनशील कोई भी राशि संकेत कहलाती है। उदाहरण के लिये किसी तापयुग्म से प्राप्त वोल्टता एक संकेत है जो तापमान की सूचना देती है।

                                               

विभिन्न युक्तियों की आंकड़ा-विनिमय दर

                                               

वोल्टता नियंत्रक

वोल्टता नियंत्रक वह एलेक्ट्रॉनिक युक्ति है जो स्वत: वोल्टता को एक निश्चित मान के पास बनाकर रखती है। यह प्रत्यावर्ती वोल्तता के नियंत्रण के लिये बनायी जा सकती है या दिष्ट वोल्टता के लिये। इसमें विद्युतयांत्रिक युक्तियाँ लगी होतीं हैं; या ये आधुनिक ...

                                               

श्रव्य प्रवर्धक

ऐसे एलेक्ट्रानिक प्रवर्धक को श्रव्य प्रवर्धक या आडियो एम्प्लिफायर कहते हैं जो कम शक्ति के श्रव्य संकेतों का प्रवर्धन कर सकें। श्रव्य-आवृत्‍ति शक्ति प्रवर्धक वह एलेक्ट्रॉनिक प्रवर्धक है जो कम शक्ति के श्रव्य आवृत्ति वाले विद्युत संकेतों को प्रवर्ध ...

                                               

संकर एकीकृत परिपथ

अलग-अलग एलेक्ट्रॉनिक अवयवों को किसी उपयुक्त आधापर जोडकर निर्मित लघु आकार के परिपथ को संकर एकीकृत परिपथ कहते हैं। संकर परिपथों को प्रायः ऊपर से एपॉक्सी से ढक दिया जाता है। संकर एकीकृत परिपथ, सामान्य एकीकृत परिपथ जैसे ही उपयोग किये जाते हैं - अर्था ...

                                               

संकेत प्रसंस्करण

यद्यपि संकेत गैर-विद्युत प्रकृति के भी हो सकते हैं किन्तु अधिकांश संकेत विद्युत संकेत होते हैं या उन्हें संवेदक, संसूचक या परिवर्तक की मदद से विद्युत स्वरूप में बदल दिया जाता है। इसके बाद विद्युत संकेतों को अधिक उपयोगी बनाने के लिये उन्हें अनेक प ...

                                               

संधारित्र

संधारित्र या कैपेसिटर, विद्युत परिपथ में प्रयुक्त होने वाला दो सिरों वाला एक प्रमुख अवयव है। यदि दो या दो से अधिक चालकों को एक विद्युत्रोधी माध्यम द्वारा अलग करके समीप रखा जाए, तो यह व्यवस्था संधारित्र कहलाती है। इन चालकों पर बराबर तथा विपरीत आवे ...

                                               

संस्थिति (विद्युत परिपथ)

किसी विद्युत परिपथ के अवयव जिस रूप में परस्पर परस्पर जुड़े होते हैं उसे संस्थिति कहते हैं। इसमें अवयवों के अलग-अलग मान होने से टोपोलोजी नहीं बदलती बल्कि इसका सम्बन्ध केवल इस बात से है कि अवयवों के बीच में कौन से कनेक्सन हैं। एक ही टोपोलोजी होने क ...

                                               

स्पंद-विस्तार मॉडुलन

स्पंद-विस्तार मॉडुलन विद्युत-शक्ति के प्रवाह के नियन्त्रण की वह विधि है जिसमें किसी स्विच के चालू रहने का समय को कम या अधिक करके आउटपुट होने वाली विद्युत को नियन्त्रित किया जाता है। अर्थात इस विधि में स्विच को न तो पूरे समय ऑन रखा जाता है न पूरे ...

                                               

अंतःस्थापित प्रणालियाँ

                                               

अर्धचालक युक्तियाँ

                                               

इलेक्ट्रानिक शब्द

                                               

इलेक्ट्रॉनिक युक्तियाँ

                                               

इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर

                                               

इलेक्ट्रॉनिक्स और समाज

                                               

इलेक्ट्रॉनिक्स कम्पनियाँ

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →