जय बाबा धुंन्धेशवर महादेव

image

जय बाबा धुंन्धेशवर महादेव

हिमाचल के इस मंदिरों के ज़रूर करें दर्शन, मिलेगा सभी कष्टों और दुखों
से छुटकारा

जय बाबा धुंन्धेशवर महादेव

हिमाचल की खूबसूरती को तो सभी जानते हैं| मगर हिमालय की गोद में बहुत
से मंदिरों का समावेश है जहां एक बार दर्शन के लिए सबको ज़रूर जाना चाहिए| इस जगह को
“देव भूमि” भी कहा जाता है। पूरे हिमाचल प्रदेश में 2000 से भी ज्यादा मंदिर हैं |
तो चलिए आपको बताते हैं यहां के इस मंदिरों के बारे में।

आइए जानते हैं इस मंदिर के बारे में जय बाबा धुंन्धेशवर महादेव……

ये एक शिव पुराण मंदिर है जो कि जय बाबा धुंन्धेशवर महादेव के नाम
से प्रसिद्ध है, जिला कांगड़ा के देहरा गोपीपुर उपमंडल मुख्यालय से 9 किलोमीटर की दूरी
पर शिव मंदिर जय बाबा धुंन्धेशवर महादेव का विशेष महत्व है। शिवरात्रि पर इस मंदिर
में हिमाचल प्रदेश के अलावा पंजाब, लुधियाना एवं जालंधर से भी श्रद्धालु आते हैं। यहां
कई सालो से शिवरात्रि के साथ रामनवमी, कृष्ण जन्माष्टमी, श्रवण मास महोत्सव, शरद नवरात्रि
व अन्य समारोह मनाए जाते हैं। शिव पुराण में वर्णित कथा के अनुसार गाय खुद जाकर भगवान
शिव के शिवलिंग पर अपने दूध से रोज अभिषेक करती थी। ऐसी मान्यता है की एक गाय रोज अपना
दूध चढ़ा कर चली जाती थी। बताया जाता है कि यहां गाय जब इस शिला/पत्थर के पास जाती
थी, तो उसके थनों से अपने आप दूध की धारा बहने लगती थी, जिसे वह शिला/पत्थर के उपर
चढ़ा देती थी।

इस मंदिर की आधिकारिक जानकारी प्राप्त करने के लिए और देव की उत्पति
और सम्पूर्ण कहानी पढ़ने के लिए कृपया हमारी वेबसाइट href="http://khaspaisa.blogspot.com"http://khaspaisa.blogspot.comstyle='font-size:13.0pt;line-height:107%;font-family:"Mangal",serif' पे क्लिक करें।
या फिर गूगल में जाकर href="https://www.google.com/url?sa=trct=jq=esrc=ssource=webcd=cad=rjauact=8ved=2ahUKEwjf0O_1sbLxAhUQYysKHYMnC00QFjAAegQIAxADurl=https%3A%2F%2Fin.pinterest.com%2Fpin%2F794815034217422288%2Fusg=AOvVaw1ViUznF5ilwR8UEliVqVta"जय
बाबा धुंन्धेशवर महादेवstyle='mso-bidi-font-weight:normal'लिख कर सर्च करें……..